मथुरा में आर-पार की जंग का हुआ ऐलान, मस्जिद में रुद्राभिषेक की धमकी

राज्य समाचार

आज 6 दिसंबर है, 1992  में आज ही के दिन लगभल 1,50,000 कार सेवको द्वारा बाबरी मस्जिद विध्वंस हुआ था। बाबरी मस्जिद की बरसी पर हिंदू महासभा ने मथुरा की शाही ईदगाह मस्जिद में हनुमान चालीसा का पाठ और लड्डू गोपाल की प्रतिमा को स्थापित करने का ऐलान किया है। हिंदू संगठनों के ऐलान के बाद आगरा और मथुरा में प्रशासन अलर्ट पर आ गया और मथुरा में शाही ईदगाह मस्जिद के आस पास के इलाके में धारा 144 लागू करते हुए बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस दौरान पुलिस ने ईदगाह मस्जिद में कांवड़ लेकर घुसने का प्रयास कर रहे 1 आदमी को हिरासत में लिया है।

बता दें की अखिल भारत हिंदू महासभा युवा के प्रदेश अध्यक्ष बृजेश भदौरिया ने कहा है कि वो 6 दिसंबर को मथुरा श्रीकृष्ण जन्मभूमि के नजदीक बनी शाही जामा मस्जिद में रुद्राभिषेक करेंगे और लड्डू गोपाल की प्रतिमा स्थापित करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा की अगर पुलिस प्रशासन ने रोकने का प्रयास किया तो वहीं आत्मदाह कर लेंगे। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में भदौरिया ने कहा है कि वह अयोध्या में सरयू, काशी और संगम से पवित्र नदियों का जल लेकर आए हैं। 6 दिसंबर को वह शाही मस्जिद मथुरा पहुंचेंगे और पहले शुद्ध जल से जामा मस्जिद में रुद्राभिषेक करेंगे फिर मंदिर में लड्डू गोपाल की प्रतिमा स्थापित करेंगे।

गैंगवार की घटनाओं से आंतक का गढ़ बना राजस्थान

इसके साथ ही अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष दिनेश कौशिक ने तय कार्यक्रम के अनुसार ही आगे बढ़ेंने की बात कही।  उन्होंने कहा कि अगर हमें प्रशासन आगे नहीं जाने देगा, तो जिस जगह हमें रोका जाएगा, हम वहीं हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर प्रशासन ने उन्हें रोका तो वे आत्मदाह कर लेंगे। उन्होंने दावा किया कि प्रशासन ने उनके कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है।


पुलिस प्रशासन ने हिंदू संगठनों के इस ऐलान के बाद बिना अनुमति के किसी भी नई परंपरा या पूजा पाठ की अनुमति देने से मन किया है।  अधिकारियों के मुताबिक, लगभग 1,500 पुलिस, अर्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है. इसके अलावा श्री कृष्ण जन्मस्थान और शाही मस्जिद ईदगाह के पास यातायात प्रतिबंध कर दिया गया है। सिर्फ स्कूल बस और एंबुलेंस को छूट दी गई है।

कमेंट करें